Breaking News

लाल और पीली मिट्टी - छत्तीसगढ़ की मिट्टी

लाल और पीली मिट्टी - छत्तीसगढ़ की मिट्टी




  • यह संपूर्ण छत्तीसगढ़ राज्य में वस्तृत है। मुख्यतः छत्तीसगढ़ के मध्य भाग तथा उत्तरी भाग में पाया जाता है 
  • इस वर्ग की मट्टियां प्राचीन युग की ग्रेनाइट शिष्ट चट्टानों पर ही विकसीत हुई हैं तथा यह भी माना जाता है कि इसकी उत्पत्ति गोंडवाना चट्टान से हुई है, जिसमें बाल, पत्थर, शैल इत्यादि पाये जाते हैं।
  • स्थानीय नाम  : मटासी (चुना की प्रधानता होती है )
  • लाल रंग : फेरस ऑक्साइड के कारन
  • पीला रंग : फेरिक ऑक्साइड के कारन
  • मुख्य फसल : धान, अलसी, तिल. ज्वार, मक्का आदि।  

  • आवश्यक ह्यूमस व नाइट्रोजन की कमी के कारण इसकी उर्वरता कम होती है।
  • प्रदेश में यह मिट्टी महानदी बेसिन के पूर्वी जिलों सरगुजा, बिलासपुर, जांजगीर, रायगढ़, जशपुर, रायपुर, धमतरी, कोरिया, महासमुंद, कांकेर, दंतेवाड़ा व बस्तर में विस्तृत है। 

No comments