Breaking

छत्तीसगढ़ की नदियां तथा नदी अपवाह तंत्र


छत्तीसगढ़ की नदियां तथा नदी अपवाह तंत्र 



छत्तीसगढ़ राज्य अनेक नदियों का उदगम स्थल है। यह देश के विस्तृत एवं बड़े प्रवाह तन्त्र गंगा, नर्मदा, गोदावरी, महानदी से सम्बद्ध है, किन्तु महानदी यहाँ का प्रमुख क्रम है, जिसका जलग्रहण क्षेत्र प्रदेश के क्षेत्रफल का लगभग 58.48% है। 

महानदी छत्तीसगढ़ की जीवन रेखा है । बस्तर की नदियों को छोड़कर छत्तीसगढ़ की अन्य प्रमुख नदियां - शिवनाथ, अरपा, हसदो, सोंढूर, जोंक आदि महानदी में मिलकर इस नदी का हिस्सा बन जाती है।  

भौगोलिक संरचना के अनुसार छत्तीसगढ़ राज्य को मुख्यतः चार अपवाह तंत्र में बाँटा जा सकता है, जिसमें प्रदेश की नदियाँ सम्मिलित हैं-  

1. महानदी प्रवाह प्रणाली (58.48 %)  - सबसे बड़ी अपवाह तंत्र 
2. गोदावरी प्रवाह प्रणाली (28 %)
3. गंगा नदी प्रवाह प्रणाली (13.15 %)
4. नर्मदा प्रवाह प्रणाली (0.58 %) - सबसे छोटी अपवाह तंत्र 

No comments:

Powered by Blogger.